Sahara India : में फंसे झारखंड के 2.5 लाख लोगों के 3 हजार करोड़ रुपये, नहीं हो रहा भुगतान

Sahara India : में फंसे झारखंड के 2.5 लाख लोगों के 3 हजार करोड़ रुपये, नहीं हो रहा भुगतान

Sahara India

सहारा से जुड़े पल-पल खबरों के लिए whatsapp group link .

रांची : वैसे तो सहारा इंडिया का पूरा देश में ही निवेशक मिल जाएंगे लेकिन हम आज एक राज की ही बात कर लेते हैं जिसका नाम झारखंड है सिर्फ झारखंड राज्य का ही 2:30 लाख से ज्यादा लोग 3000 करोड़ रूपया  सहारा इंडिया में निवेश किए हैं

Sahara India

अब यह सारे लोग काफी ज्यादा परेशान हो चुके हैं अपने ही पैसे को पाने के लिए ऐसे में सहारा इंडिया के मालिक सुब्रत राय ने अपने दोनों हाथ खड़े कर दिए हैं लेकिन जिन लोगों ने अपना पैसा निवेश के रूप में सहारा इंडिया में जमा किया था वह लोग भी पीछे हटने को राजी नहीं हैं उनका कहना है कि किसी भी हाल में हमारा पैसा चाहिए तो क्या है पूरा माजरा आइए इस आर्टिकल के माध्यम से हम लोग जानते हैं

शाखाओं के प्रबंधकों और कर्मियों के पास कोई जवाब नहीं

झारखंड में रामगढ़ रांची जमशेदपुर दुमका जैसे कई जिले के पैसे सहारा ने लोगों ने निवेश किया था लेकिन थक हार कर सहारा इंडिया को इन पैसों को लौटाने की प्रक्रिया शुरुआत आखिरकार करनी ही पड़ी लाखों लोगों ने अपना पैसे के लिए केस फाइल कर दिया है जिसके बाद घबराए सहारा के मालिक सुब्रत राय ने सारे लोगों से वादा किया है कि जल्द ही उनका पैसा दिया जाएगा

लाख रुपये फंसे हैं और वह दो साल से परेशान हैं

भुगतभोगी बोकारो जिले के बेरमो के रामदास साव का कहना है कि अपने जीवन की पूरी कमाई 20 लाख रुपये सहारा इंडिया में (Sahara India) जमा किए लेकिन उन्हें MIS तक का भुगतान नहीं किया जा रहा है।

हजारीबाग के शिवपुरी निवासी संतोष कुमार के एक लाख रुपये फंसे हैं और वह दो साल से परेशान हैं।

ब्याज तक की रकम नहीं दी जा रही है

बेरमो के बबलू गुप्ता और उनकी पत्नी राजकुमारी भारती का कहना है कि पैसे न मिलने की वजह से उन्हें अपनी बेटी का विवाह स्थगित करना पड़ा।

इसी तरह प्रदीप कुमार भगत ने भी 21 लाख रुपये जमा किए हैं लेकिन उन्हें ब्याज तक की रकम नहीं दी जा रही है। (Interest Is Not Being Paid) कुछ महीने पहले बोकारो जिले के गोमिया में सहारा इंडिया के एक एजेंट ने निवेशकों के दबाव से परेशान होकर खुदकुशी कर ली थी।
अगस्त महीने में सरकार ने लोकसभा में यह जानकारी दी थी

सहारा इंडिया में (Sahara India) पैसा लगाने वालों की संख्या करोड़ो में है। केंद्रीय वित्त राज्यमंत्री (Minister of State for Finance) पंकज चौधरी ने एक प्रश्न के लिखित उत्तर में बताया था कि सहारा समूह की विभिन्न इकाइयों में करीब 13 करोड़ निवेशकों के 1.12 लाख करोड़ रुपये के फंसे हुए हैं।

साथ मिलकर इसकी जांच में मदद करेगा

उल्लेखनीय है कि झारखंड विधानसभा के बजट सत्र में विधायक नवीन जायसवाल ने नॉन-बैंकिंग कंपनियों में (Non-Banking Companies) झारखंड के लोगों के लगभग 2500 करोड़ फंसे होने का मामला उठाया था।

उन्होंने कहा था कि तीन लाख लोग अपने पैसों को लेकर चिंता में हैं। इस पर जवाब देते हुए सरकार ने कहा था कि नॉनबैंकिंग कंपनियों की (Non-Banking Companies) वादाखिलाफी और भुगतान संबंधी शिकायतों के लिए हेल्पलाइन नंबर जारी किया जा रहा है।

Sahara India

कहा गया कि लोग हेल्पलाइन नंबर 112 पर शिकायत दर्ज करा सकते हैं। वित्त मंत्री रामेश्वर उरांव के मुताबिक वित्त विभाग इन शिकायतों के आधार पर CID (आर्थिक अपराध शाखा, झारखंड) के साथ मिलकर इसकी जांच में मदद करेगा।

यहां से जाने पूरी खबर